13 May 2021
  स्वर्ग के मंदिर

स्वर्ग के मंदिर

मंदिर परिसर का निर्माण योंगल सम्राट के शासनकाल के दौरान 1406 से 1420 तक किया गया था।
12 May 2021
  किलिमंजारो राष्ट्रीय उद्यान

किलिमंजारो राष्ट्रीय उद्यान

किलिमंजारो राष्ट्रीय उद्यान एक तंज़ानिया राष्ट्रीय उद्यान है, जो भूमध्य रेखा के 300 किलोमीटर (190 मील) दक्षिण में और तंजानिया के किलिमंजारो क्षेत्र में स्थित है। उद्यान मोशी शहर के पास स्थित है।1
12 May 2021
  श्री बृहदेश्वर मंदिर

श्री बृहदेश्वर मंदिर

श्री बृहदेश्वर मंदिर तमिलनाडु राज्य के तंजावुर में स्थित कई प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। इसे पेरुवुदैयार कोयिल (Peruvudaiyar Koyil) के नाम से भी जाता है।
12 May 2021
  आगरा का किला

आगरा का किला

यह भारत का सबसे महत्वपूर्ण किला है। भारत के मुगल सम्राट बाबर, हुमायुं, अकबर, जहांगीर, शाहजहां और औरंगज़ेब यहां रहा करते थे,
11 May 2021
  पर्सेपोलिस

पर्सेपोलिस

पर्सेपोलिस आक्मेनीड साम्राज्य (550-330 ई.पू.) की औपचारिक (रैतिक) राजधानी थी। पर्सेपोलिस, आधुनिक इरान के फार्स प्रान्त के वर्तमान शहर शिराज़ के 70 km पूर्वोत्तर में स्थित है।
10 May 2021
  कालका शिमला रेलवे

कालका शिमला रेलवे

यूनेस्को की टीम ने कालका-शिमला रेलमार्ग का दौरा करके हालात का जायजा लिया। टीम ने कहा था कि दार्जिलिंग रेल सेक्शन के बाद यह एक ऐसा सेक्शन है जो अपने आप में अनोखा है।
10 May 2021
  बामियान के बुद्ध

बामियान के बुद्ध

बामियान के बुद्ध चौथी और पांचवीं शताब्दी में बनी बुद्ध की दो खडी मूर्तियां थी जो अफ़ग़ानिस्तान के बामयान में स्थित थी।
10 May 2021
  माचू पिच्चू

माचू पिच्चू

माचू पिच्चू दक्षिण अमेरिकी देश पेरू मे स्थित एक कोलम्बस-पूर्व युग, इंका सभ्यता से संबंधित ऐतिहासिक स्थल है। यह समुद्र तल से 2,430 मीटर की ऊँचाई पर उरुबाम्बा घाटी, जिसमे से उरुबाम्बा नदी बहती है,
09 May 2021
  रानी की वाव

रानी की वाव

रानी की वाव भारत के गुजरात राज्य के पाटण में स्थित प्रसिद्ध बावड़ी (सीढ़ीदार कुआँ) है। इस चित्र को जुलाई 2018 में RBI (भारतीय रिज़र्व बैंक) द्वारा ₹100 के नोट पर चित्रित किया गया है तथा 22 जून 2014 को इसे यूनेस्को के विश्व विरासत स्थल में सम्मिलित किया गया।
08 May 2021
  पशुपतिनाथ मंदिर

पशुपतिनाथ मंदिर

पशुपतिनाथ मंदिर (नेपाली: पशुपतिनाथ मन्दिर) नेपाल की राजधानी काठमांडू से तीन किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में बागमती नदी के किनारे देवपाटन गांव में स्थित एक हिंदू मंदिर है। नेपाल के एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र बनने से पहले यह मंदिर राष्ट्रीय देवता, भगवान पशुपतिनाथ का मुख्य निवास माना जाता था।